न जिद है न कोई गुरूर है

न जिद है न कोई गुरूर है हमे, बस तुम्हे पाने
का सुरूर है हमे, इश्क गुनाह है तो गलती की हमने,
सजा जो भी हो मंजूर है हमे…!!!

Read more love shayari at Shayariworld.